What are DA and PA? How to increase DA and PA? in Hindi (2020)

 DA PA कैसे बढ़ाये? DA PA क्या होता है? DA PA का Google में क्या Effect पड़ता है?

हेलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में बात करेंगे की  DA PA कैसे बढ़ाये? DA PA क्या होता है? DA PA का Google में क्या Effect पड़ता है? तो दोस्तों में हूँ रमन स्वागत है मेरी ब्लॉग TechnoRaman.com में, तो सबसे पहले जानेंगे Domain Authority और Page Authority क्या होता है ? क्या ये website पर ट्रैफिक लाने के लिए कोई Important factors है की नहीं। तो दोस्तों आर्टिकल  अंत तक जरूर पढ़ना। 

DA PA कैसे बढ़ाये? DA PA क्या होता है? DA PA का Google में क्या Effect पड़ता है? - Techno Raman
How to increase DA PA? What is DA PA? What effect does DA PA have on Google?

DA और  PA क्या होता है? (What is DA and PA?)

DA (Domain Authority) क्या है? Domain Authority एक search engine स्कोर है जो Moz के द्वारा develope किया गया जो predict करता है search engine result pages (SERPs) पर वेबसाइट कितनी अच्छी रैंक करेगी। एक Domain Authority स्कोर 1 से लेकर 100 तक होता है, जिसमें Rank करने की ability ज्यादा होती है। उसका स्कोर 100 होता है जैसे की आप google.com को Moz पर search करेंगे तो उसका DA (Domain Authority) 100 होगी क्योकि उसकी rank करने की ability बहुत अधिक है। इसका मतलब हुआ अगर आपका Domain Authority स्कोर जितना ज्यादा होगा आपकी वेबसाइट उतनी ही rank करेगी।

PA (Page Authority) क्या है? - Page Authority को भी Moz द्वारा विकसित किया गया जो यह बताता है आपका certain page SERP पर कितना अच्छा है अगर आप Browser Engine के Top पर जाना चाहते है तो SERP की कुछ बातों का ध्यान अवश्य देना चाहिए।  Domain authorization rate के समान इसका स्कोर भी  1 - 100 तक होता है इस स्कोर का काम  Mojescape web index के Data को calculate करने के लिए है। PA (Page Authority) checker algorithm की पहचान करने के लिए एक machine learning model का इस्तेमाल करता है जो SERP की रैंकिंग के अंदर सबसे अच्छे relationship का represent करता है।


वेबसाइट की Domain Authority कैसे चेक करें?

दोस्तों,  बहुत से ऐसे Tool है DA (Domain Authority) को फ्री में check करके देते है लेकिन में आपको सलाह दूंगा आप Moz के द्वारा विकसित Link explorer का यूज़ करें या Mozbar का ही फ्री टूल (Moz's free SEO toolbar) या Keyword Explorer SERP Analysis section में DA (Domain Authority) की जांचकर सकते है। 

What is DA and PA? How to increase DA and PA?  in Hindi (2020)


अपनी वेबसाइट का समय बढ़ाएँ (Increase dwell time of your website)

आपकी वेबसाइट के dwell time में वृद्धि और आपकी साइट की bounce rates को कम करने से आपको अपनी वेबसाइट के DA (Domain Authority) को वास्तव में जल्दी से बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

Dwell time क्या है?

Dwell time एक important On-Page SEO metric है जो आपकी वेबसाइट की calculate करता है:

  • User engagement
  • Session duration  
  • Click through rates (of your search results)
जितने अधिक लोग आपकी साइट पर एक page (article, infographic, or video) पढ़ने में time Spend करते हैं, उससे साइट को बेहतर रैंकिंग मिलेगी।
  • 2000+ शब्द का ब्लॉग पोस्ट बनाएं 
  • हर blog post के तहत related posts दिखाएं
  • Regular रूप से interlinking करें 
  •  external links को new tabs में खोलें
अब इसके बारे में विस्तार से बात करते हैं

1. 2000+ word blog post बनाएं :

2000+ शब्द ब्लॉग पोस्ट बनाना शुरू करें।  Long posts quality वाले ट्रैफ़िक को चलाते हैं और अधिक लीड generate करते हैं। Google हमेशा detailed और long content के favor में रहता है ।

यदि आप Google के top 10 organic position में स्थान प्राप्त करना चाहते हैं तो आपके ब्लॉग पोस्ट में minimum 2000 शब्द होने चाहिए। Content के उस लंबे form को बनाने में समय लगता है लेकिन यह backlinks और organic traffic को attract करता है।

100 million articles पर Buzzsumo द्वारा किए गए analysis में, यह पता चला कि social media पर articles को सबसे ज्यादा शेयर मिले। लंबे समय तक posts करने से social media engagement अधिक होता है। 

  • Evergreen content विचारों का पता लगाएं और ट्रेंडिंग विषयों के लिए Google trends के माध्यम से Search करें।
  • Data इकट्ठा करें और scientific study करें। एक long-form content को लिखने से पहले research करें।
  • Article Publish करने से पहले Grammer और spelling mistakes की जाँच अवश्य करें।

2. पोस्ट के निचे related पोस्ट अवश्य दिखाएं:

Pageviews बढ़ाने और bounce rate को कम करने के लिए, आपको यह देखना होगा कि यूजर पहली पोस्ट पढ़ने के बाद आपका ब्लॉग तो नहीं छोड़ेंगे। तो इसके आप क्या कर सकते हैं?
  • इसके लिए आप सभी Related posts दिखाए इनके लिए आप wordpress plugin का यूज कर सकते है।
  • Post Plugins यह सबसे लोकप्रिय Wordpress Related Post Plugins में से एक है जो Text Display और Related Posts  के thumbnails दोनों का support करता है। 
 हालाँकि मेरा Blog Blogger पर बना हुआ है लेकिन आपकी website अगर WordPress पर बनी है तो आप इस WordPress Plugin का यूज जरूर करना। 

  • Post Plugins बहुत लोकप्रिय related posts plugin के लिए है। यह एक lightweight option है।
  • Yuzo Related post : इसे set up करना बहुत आसान है और इसमें ऐसी features का एक set है जिनसे आप Related post Plugin से expect कर सकते हैं।
  • Inline related posts: यह अन्य Plugins से काफी अलग है क्योंकि Content के नीचे Related Post दिखाने के बजाय, यह उन्हें आपके Blog Post के अंदर दिखाता है। आमतौर पर, यह news और blog sites पर यूज किया जाता है।
अपने Blog पर अपने Blog Visitors को लंबे समय तक रखने का सबसे अच्छा तरीका हर एक Blog Post  के Last में Related Post दिखाना है। इसलिए ऊपर discus किए गए किसी भी Plugins को Setup करना शुरू करें और अपने लिए Results जांचें।

3. On-Page SEO पर ध्यान दें:

On-Page SEO आपके DA (Domain Authority) Score को बढ़ाने में एक Important Role Play है। Content लिखते समय Optimization On-Page SEO कहलाता है। On-Page SEO में आपको निचे लिखी गयी बातों का ध्यान रखना होगा।

  • Title में Keywords इस्तेमाल करें - अपने Title को Attract करने के साथ-साथ उसमें Focus Keyword का भी इस्तेमाल करें। यदि संभव हो, तो Headline की शुरुआत में Focus Keyword रखें।
  • Targeted keyword - अपने Blog Post के लिए सही Keyword चुनें। इसके अलावा, long-tail वाले keyword पर अधिक ध्यान दें क्योंकि वे अधिक targeted होते हैं और बेहतर Rank करते हैं। Post के पहले Paragraph में एक बार अपने Focus Keyword का उपयोग करना सुनिश्चित करें।
  • Meta description - यह आपकी Content पर CTR (Click Through Rate) को बढ़ाता है। इसलिए हमेशा एक Attractive मेटा Description लिखने की कोशिश करें। इसमें अपना focus Keyword add करना सुनिश्चित करें।
  • Variation के साथ Content में Focus Keyword का उपयोग करें।
  • Image optimization - अपनी image के लिए सही नाम और ALT tag का यूज करें। इसके अलावा Images को Resize और Compress Images करना कभी न भूले । 
  • Heading tags - यदि आप अपने ब्लॉग पर बहुत बड़े व लम्बे Content Publish करते हैं, तो अपने Points के लिए Proper heading Tag का यूज करें। यह आपके Content को Viewers के लिए पढ़ने योग्य बनाता है।
  • Permalink structure - अपनी Content के लिए SEO friendly Permalink structure (Short and Readable URL) का यूज़ करें जिसमें आपका Focus Keyword भी शामिल करें ।
  • Keyword Density - Content में अधिक बार Keyword का उपयोग न करें। इसे Keyword स्टफिंग कहा जाता है। Keyword Density को 0.5 - 1.5% के भीतर रखें।

4. अपनी वेबसाइट के लिए High-Quality के बैकलिंक बनाएं:

High Quality वाले Backlinks बनाना कोई easy काम नहीं है। लेकिन यह इतना hard भी नहीं है। सही तकनीक के साथ, आप easily अपनी साइट के लिए High Quality Backlinks बना सकते हैं।

बहुत से ऐसे ब्लॉगर हैं जो अपनी साइट पर बैकलिंक बनाने के लिए गलत तरीके का यूज़ करते हैं और वे एक साइट से बैकलिंक बनाते हैं जो मिनटों में बहुत सारे बैकलिंक बनाने का Promise करती है। ये सभी बैकलिंक low quality के हैं और आपकी साइट की Ranking को बढ़ाने की Position को कम करते हैं।

हमेशा High Quality और Famous Sites के साथ Backlinks बनाएं। Quality backlinks आपकी Site Domain Authority को बहुत तेजी से boost में मदद करते हैं।

Quick Tips for Creating High-Quality Backlinks

  • अपने Blog पर बुनियादी content Publish करें।
  • अपनी Content को Social Networking sites पर share करें।
  • Famous Blogs पर Guest Posting करें ।
  • अपनी site को High Authority Websites पर Submit करें।
  • दूसरे ब्लॉग पर Comments करें।
  • फोटो शेयरिंग साइट पर अपनी Images को शेयर करें।
  • Document share करने वाली Websites पर अपना Article सबमिट करें।

5. SEO के लिए Internal linking करें:

Internal Linking आपकी वेबसाइट Domain Authority Increase करने में Main Role Play करता है। यह आपकी साइट की Bounce Rate को बहुत कम कर देता है और Search Engine Bots को आपकी Content को बेहतर तरीके से Crawl करने में मदद करता है।  Internal Link Google को आपकी साइट पर Pages को खोजने, Index करने और समझने में मदद करते हैं। और वेबसाइट SEO में भी सुधार करता है ।

Easy Words में, Google में अच्छी तरह से Rank करने के लिए Internal Linking Important है।

Internal Linking के कुछ लाभ इस प्रकार हैं:

  • यह Search Engineऔर यूज़र्स को आपकी वेबसाइट के valuable pages के बारे में बताता है।
  • जब आपका ब्लॉग नया होता है, तो Search Engineआपकी वेबसाइट या ब्लॉग को जल्दी से Index नहीं करता है। इसलिए Internal Listnig बहुत जरूरी है।
  • Bounce Rateकम करता है।

6. आपकी साइट से Bad Links हटा दें

हमेशा अपनी Site की Link Profile पर नज़र रखें। यदि आपकी साइट पर Bad Link या Toxic Link की संख्या बहुत अधिक है, तो यह आपके Domain Authority, Ranking और Traffic को बहुत प्रभावित करेगा।

इसलिए, अपने Link Profile को साफ और स्वस्थ रखना बहुत महत्वपूर्ण है। इसके लिए आप SEMrush, Ahrefs या LinkPatrol Tool का यूज़ कर सकते हैं।

लेकिन बहुत से ब्लॉगर ऐसे हैं जो इस पर ध्यान नहीं देते हैं और SERPs में उनकी स्थिति दिन पर दिन कम होती जाती है। इसके अलावा, उनका DA भी बुरा असर पड़ता है।

यदि आप अपनी Link Profile को साफ और स्वस्थ रखना चाहते हैं, तो नियमित रूप से अपनी साइट से Bad Links की जाँच करें और उन्हें हटा दें।

7. अपनी Website को Mobile-Friendly बनाएं

मोबाइल यूज़र्स की संख्या बहुत बढ़ गई है और आधे से अधिक Search मोबाइल द्वारा की जाती है। यदि आपकी website Mobile-friendly नहीं है, तो आपकी साइट SERPs में अच्छा Perform नहीं कर पाएगी।

इसके अलावा, यदि आपकी साइट visitors को मोबाइल में ठीक से नहीं दिखाई देती है, तो वे आपकी साइट से तुरंत बाहर निकल जाएंगे।

आप यह जांचने के लिए Mobile-friendly test tool का उपयोग कर सकते हैं। यह Google द्वारा Devlope किया गया है यह आपको आपकी Site Mobile-Friendly है या नहीं यही पता लगाने में मदद करता है।

8. अपनी Website की Laoding speed को ठीक करें

यदि आपकी Website को load करने में बहुत लंबा समय लगता है, तो यह आपकी वेबसाइट की bounce rate को प्रभावित करता है। कोई भी Viewers किसी साइट के खुले होने के लिए 2 से 3 सेकंड Wait करता है। यदि साइट 2 से 3 सेकंड में लोड होती है, तो यह ठीक है अन्यथा Visitors साइट से बाहर निकल जाएगा और दूसरे Search Results पर चला जाएगा।

आप अपनी साइट की Loading Speed की Test करने के लिए Pagespeed Insights, PSDIऔर GT metric tool का यूज़ कर सकते हैं। Loading Speed बढ़ाने के लिए इसे पढ़े - वेबसाइट स्पीड कैसे बढ़ाएं?

What is DA and PA? How to increase DA and PA?  in Hindi (2020)


9. अपनी Site Structure Clean और User-Friendly रखें

Site structure Clean और User friendly रखना बहुत Imprtant है ताकि Visitors Site को आसानी से Navigate कर सकें। इसलिए, आपको Users Experience का विशेष ध्यान रखना होगा।

अपनी साइट या ब्लॉग को अधिक Colorfull न बनाएं। यह Readers का ध्यान भटका सकता है और आपके ब्लॉग से बाहर निकल सकता है।

10. Page में Links की संख्या को Limit में रखें

यदि आप अपने Content में बहुत अधिक Linking करते हैं, तो यह एक अच्छा विचार नहीं है। Users अनुभव के अनुसार यह अच्छा नहीं है। इसके अलावा, Google एक Page पर सीमित संख्या में Link जोड़ने को भी recommend करता है।

11 . अपने Content को Social Sites पर Share करें

अपने Content Publish करने के बाद, इसे Social Networking Sites पर Share करना न भूलें। इससे आपके ब्लॉग पर आसानी से बहुत सारे Traffic Generate हो सकते हैं।

लेकिन आपका Content ऐसी होना चाहिए कि यह Users को Share करने और Comments करने के लिए मजबूर करे। इसके अलावा, आप अपनी साइट पर एक Social Share Button Add सकते हैं।

12. किसी अन्य ब्लॉग पर Guest Post Submit करें

Guest Posting से आपका Traffic और Backlinks की संख्या बढ़ जाती है। यदि आपकी साइट पर Backlinks की संख्या बढ़ जाएगी तो आपका Automatic DA बढ़ जाएगा।

लेकिन एक बात का ध्यान रखें, जिस ब्लॉग पर आप Guest Posting करेंगे, वह ब्लॉग आपके ब्लॉग से Related होना चाहिए।

13. अपने Domain को पुराना होने दें

Domain की Age आपकी Site Ranking और DA Score को बढ़ाने में बहुत मदद करती है। यदि आपकी साइट 3 या 4 साल पुरानी है और आप इस पर regular quality Content Publish करते हैं, तो इसका Domain Authority 30-40 या उससे अधिक हो सकता है। लेकिन अगर आपकी साइट 1 या 2 महीने पुरानी है, तो आपको अभी Domain Authority के बारे में सोचने की ज़रूरत नहीं है। अभी Content Publish पर ध्यान दें। आपकी DA Automatic Increase हो जायेगा ।

14. अपने ब्लॉग पर Regular Content Publish करें

अपने ब्लॉग पर Regular Content Publish करें। यह आपकी साइट पर Visitors और Domain Authority दोनों को बेहतर बनाने में मदद करता है।

कई ब्लॉगर ऐसे होते हैं जो इसका रखरखाव नहीं करते हैं, जिसके कारण उनका DA बहुत अधिक उतार-चढ़ाव करता रहता है। यदि आप अपने ब्लॉग पर Regularly Content Publish करते हैं, तो आपका DA बढ़ जाएगा। लेकिन यदि नहीं, तो DA भी हो सकता है।

15 . अपनी Site को HTTP से HTTPS में Move करें

Google https को Ranking factor के रूप में यूज़ कर रहा है। इसलिए, यदि आप अपनी site को HTTP से https में migrate करते हैं, तो आपके Domain Authority को बहुत सुधार किया जा सकता है लेकिन एक बात का ध्यान रखें, जब आप अपनी साइट को HTTP से https में migrate करते हैं और proper redirection set नहीं करते हैं, तो आपकी वेबसाइट का ट्रैफ़िक बिलकुल जीरो हो सकता है।

16. Site के लिए Sitemap सबमिट करें

Sitemap Search Engine आपकी वेबसाइट को बेहतर तरीके से Crawl करने में मदद करता है। यदि आप अपनी साइट पर Yoast SEO या Jetpack का उपयोग कर रहे हैं, तो आप आसानी से अपनी साइट के लिए XML साइटमैप बना सकते हैं।

17. Patient रखें 

Domain Authority एक ऐसा Factor है जो रातोरात नहीं बढ़ता है। इसके लिए आपको धैर्य रखने की जरूरत है। बस धैर्य रखें और काम करते रहें, आपकी Ranking और Domain Authority दोनों में सुधार होता रहेगा।

Conclusion

अधिक Domain Authority वाली Site को Search Results में Top Rank और अधिक Traffic प्राप्त होता है।

High Domain Authority को प्राप्त करना बहुत मुश्किल है और इसमें बहुत समय लगता है। लेकिन इस article  का पालन करके, आप अपनी साइट Domain Authority को काफी तेजी से बढ़ा सकते हैं।

अगर हमारा यह Article किसी भी प्रकार से आपके लिए Helpfull हुआ हो , तो Please इसे शेयर करना न भूलें!

What is SEO? On-Page, Off-Page, White and Black Hat SEO in Hindi [Search Engine Optimization]

एक आर्टिकल लिखने से यह क्वालिटी कंटेंट लिखने से आपका आर्टिकल गूगल में रैंक नहीं करेगा उसमें ट्रैफिक भी नहीं आएगा और आप उसे मोनेटाइज भी नहीं कर सकते उसके लिए आपको SEO सीखना जरूरी है। SEO बहुत बड़ा टॉपिक है इसपर हम पूरी सीरीज बनाएंगे। दोस्तों मेरा नाम है रमन और स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में। 

What is SEO? On-Page, Off-Page, White and Black Hat SEO in Hindi [Search Engine Optimization]
What is SEO in हिंदी?


What is SEO?

सबसे पहले हम बात करते है की SEO का फुल फॉर्म होता क्या है तो में आपको बता दूँ SEO का Search Engine Optimization  होता है मतलब आपके ब्लॉग को और कंटेंट को  Search Engine के हिसाब से optimize करना उसके हिसाब से उसको ढालना जितना आसान हो सके में आपको explain करूँगा। दुनिया में बहुत सारे Search Engine होते है जैसे- Google, Bing, yahoo लेकिन हम ज्यादातर Google के ऊपर पोस्ट करते है क्यों क्युकी Google का जो मार्केट शेयर है वो 92.06% है ज्यादातर लोग google  का हे इस्तेमाल करते है और उसी से ट्रैफिक लाते है SEO एक ऐसा प्रॉसेस है जिससे आप Google को या किसी भी Search engine को बिना पैसे दिए अपनी Site को top में रैंक करते हो उसी को हम SEO [Search Engine Optimization] कहते है। 

SEO को दो भागों में बाँटा गया है। जिससे से हम अपनी वेबसाइट को Optimize करते है। 

1. OFF Page SEO- यह वही है जो आप अपनी वेबसाइट, ब्लॉग,आर्टिकल्स के साथ काम करते हो।  
2. ON Page SEO - इसमें आप अपने ब्लॉग को छोड़कर कही बाहर काम करते हो अपनी वेबसाइट के लिए।  

What is ON Page SEO?

ON page SEO में आता है Article Optimization, Website Speed, Website structure कुछ ऐसे ही छोटी-छोटी चीज़े आती है जिसे हम ON Page SEO कहते है। 

What is OFF Page SEO?

OFF page SEO में जैसे आप बाहर काम करते हो जैसे Social Media में शेयर करना और किसी और की वेबसाइट पर guest post लिखना या फिर Backlinks बनाना, या differents directories में अपनी वेबसाइट को सबमिट करना और भी बहुत सी चीज़े करना, इससे आपके पेज का autherity बढ़ता है। 

जैसे की अगर आपने कोई पोस्ट पब्लिश कर दिया तो आपको पैसे कमाने के लिए उसी पोस्ट को आपको लोगो को दिखाना जरूरी होता है। तो सोचो वो लोगों तक वो कैसे पहुंचेगा। लोगों तक पहुंचाने के लिए तीन चीज है। 

1. Social Media - आप यहां जैसे फेसबुक, ट्विटर जैसे प्लेटफार्म पर शेयर कर दो तो आपके ब्लॉग में इससे कितना ट्रैफिक आ पायेगा 100-200 ज्यादा से ज्यादा  500 उससे ज्यादा ट्रैफिक नहीं आएगा।  

2. Paid Promotion - आपने कभी गूगल पर Search किया हो तो देखना सर्च के बाद आपको ऊपर कुछ Ads पेज दिखेंगे ये सब होता है Paid results मतलब में अगर कोई नयी वेबसाइट बना रहा हूँ और गूगल को कुछ पैसे दे रहा हूँ जैसे में गूगल को कोई कीवर्ड दे रहा हूँ जो गूगल के सर्च रिजल्ट्स में टॉप पे आना चाहिए आप इसे try कर सकते हो लेकिन हमारे लिए ये चीज़े नहीं है जिसके पास बहुत सारा पैसा है या जो बड़ी compnies है ये लोग paid results में इन्वेस्ट करते है। 

3. SEO - ये पॉइंट है हमारे लिए जो है SEO , हमने अपने पोस्ट और ब्लॉग को गूगल के हिसाब से optimize करते है जिससे गूगल हमारे पोस्ट को First पेज पर रैंक करता है उससे जो ट्रैफिक आता है उसे हम कहते है Organic Traffic तो आज हम बात करेंगे वो क्या-क्या techniq होता है और क्या-क्या तरीके होते है जिससे हम अपनी साइट को रैंक करते है जब ज्जाके आर्टिकल First Page पर आता है SEO techniq 3 तरीका का होता है। 

1. White Hat SEO 
2. Black Hat SEO 
3. Grey Hat SEO 

What is SEO? On-Page, Off-Page, White and Black Hat SEO in Hindi [Search Engine Optimization]


What is White Hat SEO?

गूगल सर्च में आने के लिए जो guidlines है उसी चीज को फॉलो करते है और उसी से आप अपने पोस्ट को रैंक करते हो तो आपको कोई परेशानी झेलने की कोई जरुरत नहीं पड़ेगी। 
जैसे की आप अच्छे से कीवर्ड Research करते हो अच्छा सा क्वालिटी कंटेंट लिखते हो उसमे इमेज डालते हो और उसमे वीडियो डालते हो आपकी वेबसाइट का डिज़ाइन अच्छा है स्पीड अच्छा है और आपकी वेबसाइट का Structure अच्छा होता है ये सारी चीजें matter करती है जोकि Google की Guidlines के हिसाब से काम करता है।इसको कहते है White Hat SEO

What is Black Hat SEO?

 इसमें आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं होती क्युकी इसमें आपको अच्छा quality content लिखने की ज़रूरत नहीं होती बस आपको कही से कॉपी, पेस्ट करके आर्टिकल लिखना है और गूगल को force करना है की तुम हमारे इस आर्टिकल को गूगल में टॉप पर रैंक करो इसका मतलब आप गूगल को ठग रहे हो और गूगल इस चीज़ को कभी allow नहीं करता ऐसा करने से आप आज नहीं तो कल पकडे जाओगे अगर आप पकड़े गए तो गूगल आपको ब्लॉक कर देगा और आपका रैंकिंग भी घट जायेगा  ये सब तो छोडो आप गूगल के searchbar में ही नहीं दिखोगे। दोस्तों यही होता है  Black Hat SEO

What is Grey Hat SEO?

ये ऐसा techniq है जिसमे लोग ज्यादा म्हणत नहीं करते आर्टिकल के लिए लेकि ये ऐसा कोई techniq follow करते है जिससे की उनका साइट रैंक हो जाता है। शायद आपको नहीं पता गूगल का 200 से भी ज्यादा algorithm काम करता है जिससे वह वेबसाइट को filter करता है और पता करता है की कोण सा पहले आएगा और कौन सा बाद मे आएगा ये सब जो गूगल के algorithme है ये सब किसी को नहीं पता मतलब गूगल के employees को भी नहीं पता जो जानते भी है वो इसके बारे में बहुत कम जानते है जब लोग ऐसे techniq को समझने लगता है की नहीं ये सब करने से ऐसे ऐसे रैंक हो रहा है तब गूगल एक नया ऑपरेट निकाल देता है। अपना रैंकिंग फैक्टर को change कर देता है इसलिए बीच में कोई न कोई अपडेट आते रहते है। इसलिए वेबसाइट की रैंकिंग घट जाती है। 


मेरा तो मानना ये है की हमेशा White Hat SEO करना चाहिए जिससे आपको कभी परेशानी न हो और आपकी वेबसाइट की रैंकिंग भी बनी रहे।

निष्कर्ष 

दोस्तों SEO एक बहुत बड़ा टॉपिक है ये तो बस एक overview है हम SEO के ऊपर बहुत से टॉपिक लेकर आएंगे अगर आपका कोई सवाल या कोई सुझाव या आपको आर्टिकल कैसा भी लगा हो तो हमे comment करके जरूर बताये। 

Queries Cover In this article

SEO क्या है – What is SEO in Hindi
What is on-page SEO in Hindi
What is OFF Page SEO?
What is White Hat SEO?
What is Black Hat SEO?
What is  Grey Hat SEO?

अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये ? How to make your name ringtone? In 2020

हेलो दोस्तों, स्वागत है आपका technoraman.com में। आज का टॉपिक काफी ख़ास है क्युकी आज में आपको एक ऐसी ट्रिक बताऊंगा जिससे  की आप अपने नाम की रिंगटोन बना सकते है वो भी बिलकुल प्रोफेशनल टाइप का आपने प्ले स्टोर पर ऐसे काफी Apps देखें होंगे जो कहते है की आपन अपने नाम से रिंगटोन कैसे बना सकते है लेकिन दोस्तों हमने भी ऐसे Apps Try किये है जो बिलकुल बकवास है जो किसी काम के नहीं है वो बस दावा करते है की आप अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये ? लेकिन दोस्तों आज के इस आर्टिकल में अगर आप इस ट्रिक के बारें में जानोगे तो आपको पता चलेगा की ये रिंगटोन इतने कमाल का बनेगा की सुनने वाले भी कहेंगे की ये रिंगटोन आपको  कहाँ से डाउनलोड किया या मिला।   

अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये और डाउनलोड करें ?
 How to make and download your name ringtone?

अगर आपको अपने नाम से रिंगटोन बनानी है तो आप इस आर्टिकल को अंत तक पड़ना तभी आपको पता चलेगा की आप अपने नाम से रिंगटोन कैसे बना सकते है। तो चलिए दोस्तों आखिर बात करते है की आप अपने नाम का रिंगटोन कैसे बना सकते है। 


1. सबसे पहले आपको FDMR  को अपने ब्राउज़र में सर्च करना है या जहां FDMR  लिखा हुआ है आप उसपे क्लिक करके भी रिंगटोन बनाने वाली वेबसाइट पर जा सकते है। 

2. वेबसाइट open  हो जाने के बाद सर्च रिंगटोन (Search Ringtone) पर क्लिक करें जैसे निचे स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है ठीक वैसे ही। 

अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये और डाउनलोड करें ? How to make and download your name ringtone?

3. उसके बाद आपके सामने के सर्च बॉक्स (search Box) आएगा उसमे अपना नाम सर्च करें जैसे की मैंने स्क्रीनशॉट में सर्च करके दिखया है कुछ उसी प्रकार आपको भी सर्च करना है। 

अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये और डाउनलोड करें ? How to make and download your name ringtone?

4. उसके बाद आपको कोई भी रिंगटोन पसंद आयी हो तो आपको  Click here go to download page पर क्लिक करना होगा उसके बाद आपकी ये रिंगटोन डाउनलोड हो जाएगी। 

उसके बाद दोस्तों आप इस रिंगटोन को अपने फ़ोन में सेट कर सकते है अगर दोस्तों आपको नहीं पता की रिंगटोन कैसे सेट करते है तो आपको इसके बारें में भी बता देता हूँ की रिंगटोन सेट कैसे करते है। 

1.  आपको अपने फ़ोन की सेटिंग में जाना है उसके बाद आपको थोड़ा स्क्रॉल करना है फिर आपको Sound  & Vibration का ऑप्शन दिखेगा फिर उसपे आपको क्लिक करना है। 

2. जब आप Sound  & Vibration  सेटिंग के अंदर होंगे तो आपको Phone Ringtone दिखाई देगा उसपर क्लिक कीजिये उसमे आपको एक Local Ringtone  का चयन करना है। 

3. उसके बाद आप फाइल मैनेजर में आ जायेगें उसमे आपको डाउनलोड फोल्डर का चयन करना है आपने जो भी रिंगटोन डाउनलोड की थी उसपर long Press करेंगे तोह आपको set as ringtone पर क्लिक करना है उसके बाद आपकी रिंगटोन आपके फ़ोन में सेव हो जाएगी। 


तो दोस्तों हमने आज इस आर्टिकल में जाना की अपने नाम की रिंगटोन कैसे बनाये और डाउनलोड करें ? How to make and download your name ringtone? अगर आपको ये ट्रिक पसंद आयी हो और आपको कोई सलाह या कोई सवाल हो तो प्लीज आप अपने विचार कमेंट करके जरूर बताना क्युकी ये हमारे लिए आवश्यक है। तो दोस्तों आपको इस आर्टिकल को पड़ने के लिए धन्यवाद। 

ये भी पढ़े -

PUBG मोबाइल गेम को खेलकर पैसे कैसे कमाये? [2020]

हेलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे PUBG Mobile Game को खेलकर पैसे कैसे कमा सकते है या समझ लो की आज में आपको कुछ app एंड वेबसाइट के नाम बताऊंगा जिनसे आप PUBG Mobile game को खेलकर paytm cash कमा सकते हो ये वेबसाइट और Apps बिलकुल genuine और ट्रस्टेड है बल्कि में तो इन्हे खुद यूज़ करता हूँ तो दोस्तों आपका वक़्त जाया नहीं करते है और बताते है की आप PUBG Mobile Game खेलकर रियल मनी कैसे कमा सकते है ? एक मिनट दोस्तों आपको में इसमें एक ऐसी app भी बताऊंगा जिसमे आप बिना एंट्री फीस दिए PUBG मोबाइल टूर्नामेंट को बिना एंट्री फीस दिए खेल सकते हो जी हाँ दोस्तों आपको इसमें एक भी पैसा बर्बाद करने की ज़रूरत नहीं है लेकिन  कुछ ऐसे भी app या वेबसाइट बताऊंगा जिससे आपको एंट्री फीस देनी होगी। दोस्तों इनकी ख़ास बात ये है की आप इनमे kill, रैंक और चिकन डिनर के हिसाब से पैसे कमा सकते हो तो दोस्तों सबसे पहले हम बात करते है फ्री वाली app के बारे में क्युकी दोस्तों काफी ऐसे लोग भी है जो चाहते है की में किसी गेम में कोई एंट्री फीस क्यों दूँ? दोस्तों तो हमारी पहली App है -


1.Gaming Monk 

ये दोस्तों सबसे बेस्ट App है वैसे दोस्तों इनकी वेबसाइट भी है में दोस्तों आपको recommand करूँगा की आप इनकी वेबसाइट पर जाकर ही login या Register करें क्युकी दोस्तों ये आप अभी फुल्ली डेवेलोप नहीं हुआ है क्युकी दोस्तों आपको app में वेबसाइट जैसे फीचर देखने को नहीं मिलेंगे, जैसे आपको कोई भी डिटेल देखनी हो तो वो आपको देखने के लिए नहीं मिलेंगी लेकिन आप चाहे तो आप इनका app भी डाउनलोड कर सकते हो। दोस्तों इसमें आपको कोई एंट्री फीस नहीं देनी होगी एक और बात दोस्तों इसमें आप PUBG  mobile ही नही आप इसमें freefire, Fortnite, FIFA20 और भी बहुत से टूर्नामेंट बिना किसी एंट्री फीस दिए खेल सकते हो। दोस्तों इसमें मोबाइल ही नहीं PC गेम्स के भी टूर्नामेंट होते है अगर आपको PUBG मोबाइल की टूर्नामेंट नहीं खेलनी तो आप किसी और गेम की टूर्नामेंट खेल सकते हो। 

Gaming Monk Pros

  • इसमें आपको एंट्री फीस का कोई चार्ज नहीं देना पड़ता है। 
  • इसमें आपको टूर्नामेंट्स राउंड्स वाइज मिलते है- जैसे 1st राउंड, 2nd राउंड और 3rd राउंड 

Gaming Monk Cons 

  • इसमें दोस्तों मुझे जो ख़राब लगा वो था विंनिग प्राइज टाइम दोस्तों मानलो आपने कोई टूर्नामेंट जीता तो उसका विनिंग प्राइज 10-15 दिन लग जाते है अकाउंट में आने में।
  • प्राइज रिडीम करने में भी 7-8 दिन लग जाते है। 


 अगर आपको इस वेबसाइट के बारे में ज्यादा कुछ जानना हो आप इनका discord सर्वर भी ज्वाइन कर सकते हो।  दोस्तों अगर आपको प्राइज टाइम में कोई प्रॉब्लम नहीं है तो आप इस वेबसाइट को यूज़ ज़रूर करना लेकिन आपको लगता 10 से 30 रुपए एंट्री फीस लग जाए पर प्राइज मुझे तुरंत मिलना चाहिए तो आप इसे अंत तक ज़रूर पड़ना क्युकी हम आगे भी और वेबसाइट के बारे में बताने वाले है। 

2. Playerzon

दोस्तों हमने जो पहली वेबसाइट बताई थी वो सिर्फ उन लोगो के लिए थी जो कोई भी इन्वेस्टमेंट नहीं करना चाहते है या जिनको टूर्नामेंट का कोई एक्सपेरिंस नहीं है तो दोस्तों पहले आप गेमिंग मोंक को यूज़ करें उसके बाद आप इस playerzone app पर स्विच कर सकते है दोस्तों ये भी काफी अच्छी वेबसाइट है क्युकी इसमें एंट्री फीस से किल का जो रेश्यो मिलता है वो काफी अच्छा है। इसमें आपको arcade टूर्नामेंट खेलने को मिलते है आपको पता ही है की Arcade टूर्नामेंट 10-15 मिनट का होता है। अगर आप classic मैच नहीं खेल सकते हो या आपके पास इतना टाइम नहीं है की आप एक classic मैच नहीं खेल सकते हो तो आप एक arcade मैच खेल सकते हो। 

PUBG मोबाइल गेम को खेलकर पैसे कैसे कमाये?

Playerzon Pros

  • इसमें आपको तुरंत पेमेंट मिलता है। 
  • इसमें आपको Arcade टूर्नामेंट भी देखने को मिलते है
  • 12-15 टूर्नामेंट डेली होते है। 
  • अगर आप इनमे 2nd या 3rd प्लेस पर आते हो तो आपको 100 रुपए तो मिल जाते है। 
  • मान लो अगर आपने 20 रुपए एंट्री फीस दी तो आपको 10 रुपए एक किल के हिसाब से मिल जाते है। 

Playerzon Cons

  • इसमें मैच फ्री नहीं होते है। 

3. Stick Pool Club

दोस्तों ये कोई PUBG गेम की डेडिकेटेड ऐप्प नहीं है इसमें भी आप 8 पूल और रुम्मी गेम्स भी खेल सकते हो 
दोस्तों ये एप्प भी काफी अच्छी एप्प है क्युकी मान लो आपने 20 रुपए एंट्री फीस दे तो आपको 1 किल के 22 रुपए लगभग मिल जाते है। दोस्तों अगर आप aggressive कहलते हो या 4-5 किल आराम से कर लेते हो तो आप इस वेबसाइट पे जाकर खेल सकते हो और 100-150 रुपए आराम से कमा सकते हो। 

 Stick Pool Club Pros

  • इसमें आपको आपकी दी गयी एंट्री फीस से एक किल पर 2 रुपए ज्यादा मिलते है।

 Stick Pool Club Cons 

  • इसमें आपको चिकेन डिनर के दी गयी एंट्री फीस के बराबर मिलती है। 
  • अगर इनके 100 प्लेयर फिल नहीं हो पाते है तो ये मैच को कैंसल कर देते है। 
दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आपको आज का ये आर्टिकल पसंद आया हो शायद अब आप PUBG मोबाइल गेम को खेलकर पैसे कैसे कमाते है इसपर आपका सवाल ख़तम हो गया हो गया हो अगर अभी भी आपका को सवाल या सुझाव हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये क्युकी हमे आपकी और अपनी मदद करना अच्छा लगता है। 

जय हिन्द वन्दे मातरम 

मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? मकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे बने ?

हेलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे की मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? क्या मकेनिकल इंजीनियर में करियर बनाया जा सकता है? या इसके लिए क्या - क्या क्वालिफिकेशन चाहिए और जरुरी ये की सैलरी पैकेज कितना होता है ? अगर आपने मकेनिकल इंजीनियरिंग कर ली है तो इसमें जॉब्स के लगने के चांस है या नहीं ? और इसमें किस टाइप की फ़ील्ड्स रहती है और किस टाइप का काम रहता है  तो दोस्तों अगर आपके भी मन में ये सवाल आ रहे हो या अगर किसी और को समझ में नहीं आ रहा हो की मकेनिकल इंजीनियर क्या है ? क्या मकेनिकल इंजीनियरिंग में करियर बनाया जा सकता है ? तो दोस्तों हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढियेगा और शेयर करना ना भूलना। 

मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? मकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे बने ?


What is Mechanical Engineering? मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? 

अगर आप मकेनिकल इंजीनियरिंग कर लेते है तो कोई भी प्राइवेट या गवरमेंट सेक्टर या पब्लिक सेक्टर हो उसमे जो प्लांट रहता है या कोई ऑपरेशन्स हो रहा है या उसके अंदर जो प्रोडशन, मेंटेनेंस है उसको मेन्टेन करने के लिए एक इंजीनियर आवश्यकता होती है मतलब उसमे जो मेंटेनेंस डिपार्टमेंट या प्रोडशन डिपार्टमेंट को सँभालने के लिए मैकेनिकल इंजीनियर की आवश्यकता होती है। 

मकेनिकल इंजीनियर को क्या-क्या क्वालिफिकेशन चाहिए?

इसमें आप दो तरीके से एंट्री कर सकते है देखिये या तो आप पॉलिटेक्निक (डिप्लोमा) या 12th के बाद डायरेक्ट कर सकते है यदि आप पॉलिटेक्निक डिपलोमा से करते है तो आपको 10th पास के बाद मकेनिकल से डिप्लोमा करना होगा ये कोर्स 3yrs का होता है या अगर आपको मकेनिकल डिप्लोमा के बाद मकेनिकल b.tech/BE  करनी है तो आपको b.tech?BE की 2nd yrs में एडमिशन लेना होगा आपको इसमें लेटरल एंट्री के माध्यम से एडमिशन मिलेगा आपको बता दूँ की b.tech 4yrs की होती है और आपको 2nd yrs से एडमिशन लेते हो तो ये टोटल 3yrs साल तक करनी होगी। उसके बाद आपको b.tech डिग्री मिल जाती है।अगर आप 12th के बाद मकेनिकल बी.टेक करते है तो आपको 4yrs तक b.tech  करनी होगी। कहने का मतलब ये है की अगर आप 10th पास होने के बाद पॉलिटेक्निक करते है और आपको पॉलिटेक्निक के बी.तर्क करना है तो आपको बस 1yrs बच जायेगी आपको बस यही फायदा है चाहे तो आप 12th के बाद b.tech कर सकते हो लेकिन आपको 12th में PCM यानी फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट के साथ पास होने चाहिए। आपको बी.टेक या BE में एक jee advance और jee mains करके एक एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है और आपकी मेरिट लिस्ट में कॉलेज कॉउंसलिंग होती है उस कॉउंसलिंग के माध्यम से आपको प्राइवेट कॉलेज या गवर्मेंट कॉलेज में एडमिशन लेंना होता है उसके  रेगुलर 4yrs  की डिग्री कम्पलीट करनी होगी। उसके बाद आपको एक b.tech या bE की डिग्री मिल जाती है उसके बाद आप एक कम्पलीट इंजीनियर बन जाते है। 

हम आपको एक बात बता दे की अगर आप बेस्ट आईआईटी कॉलेज या गवरमेंट कॉलेज से b.tech  या BE  करना चाहते है तो कुछ बेस्ट कॉलेज है इंडिया में हमारे जो सिलेक्टेड आईआईटी कॉलेज है जिनके नाम हम बता दे आपको आईआईटी मद्रास, आईआईटी बॉम्बे, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी गुहावटी और आईआईटी रूडकही ये कुछ सिलेक्टेड कॉलेज है। अगर आप चाहे तो किसी प्राइवेट कॉलेज से भी डिग्री कर सकते है आपको प्राइवेट कॉलेज आपको अपने शहर में मिल जायेंगे। 

मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? मकेनिकल इंजीनियरिंग कैसे बने ?

इसमें जॉब्स के लगने के चांस है या नहीं ?

इसका जवाब है हाँ , लेकिन आपको पहले कोई जॉब सर्च करनी होगी इस जॉब में काफी सारे अवशर मिलते हैं इसके लिए चाहे प्राइवेट सेक्टर हो या गोवेर्मेंट सेक्टर हो या पब्लिक सेक्टर हो लेकिन इनमे केवल सैलरी पाकजागे का डिफरेंस रहता है जिसे हम अगली हैडिंग में कवर करेंगे। 

सैलरी पैकेज कितना होता है ? 

प्राइवेट सेक्टर हो या गोवेर्मेंट सेक्टर हो या पब्लिक सेक्टर इन तीनो में सैलरी पैकेज में काफी अंतर होता है अगर आप प्राइवेट सेक्टर में फ्रेशर है तो आपको 10-15 हज़ार प्रति माह तक मिलती है और गवरमेंट सेक्टर में आपको पहले एंट्रेंस देना पड़ता है तब कही जाके आपको 40-45 हज़ार प्रति माह तक पैकेज मिलता है यदि आप पब्लिक सेक्टर में जाते हो तो 45-60 हज़ार प्रति माह का वेतन मिलता है इस सेक्टर में जाने के लिए आपको गेट के थ्रू जाना होता है इसमें भी कंपनी अपना सेल्फ एंट्रेंस एग्जाम रखती है। 

तो दोस्तों आज के लिए इतना काफी है में उम्मीद करता आपको समझ आया होगा की मकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होता है? क्या मकेनिकल इंजीनियर में करियर बनाया जा सकता है? या इसके लिए क्या - क्या क्वालिफिकेशन चाहिए और जरुरी ये की सैलरी पैकेज कितना होता है ? अगर आपने मकेनिकल इंजीनियरिंग कर ली है तो इसमें जॉब्स के लगने के चांस है या नहीं ? और इसमें किस टाइप की फ़ील्ड्स रहती है और किस टाइप का काम रहता है अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताये क्युकी हमे आपकी मदत करके ख़ुशी मिलती है। 

जय हिन्द वन्दे मातरम 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

हेलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की आप अपने ब्लॉगर ब्लॉग में नोटिफिकेशन बेल कैसे लगते है दोस्तों आपमें से काफी लोगों को इसके फायदे के बारे में पता होगा अगर इसके बारे में अगर कुछ नहीं मालुम नहीं है तो में आपको बता दूँ की ये यूट्यूब के सब्सक्राइब के बटन की तरह होती है जैसे यूट्यूब पे आप किसी के चैनल को सब्सक्राइब कर लेते है तो आपको उसकी नयी वीडियो के नोटिफिकेशन आपने लगते है ठीक इसी तरीके से यदि आपके वेबसाइट या ब्लॉग में आप वेब पुश नोटिफिकेशन बेल लगते है तो उस व्यक्ति को आपके वेबसाइट पर डाले गए पोस्ट्स के नोटिफिकेशन मिलने लगते है और इस तरीके से आपको अपनी वेबसाइट पर व्यूज भी मिलने लगते है, शायद दोस्तों आपको आईडिया लग गया होगा की में क्या कहना चाहता हूँ तो दोस्तों में आपको कुछ स्टेप्स बताऊंगा जिससे आप अपनी वेबसाइट में वेब पुश नटिफिकेशन बेल लगा पाएंगे।

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website?

1. सबसे पहले दोस्तों आपको https://app.letreach.com/login/register दिए गए इस लिंक पर जाना होगा और आपको sign up करना होगा मेने आपको इमेज में भी बताया है आप निचे देख सकते है कुछ इसी प्रकार से।

 2. दोस्तों अभी आपका काम ख़तम नहीं हुआ है अभी आपको कुछ सेटिंग करनी है आप निचे इमेज में देख पा रहे होंगे आपको एक कोड दिखेगा आपको करना बस इतना है की आपको <head> के निचे दिए गए कोड को पेस्ट करना है आपको <head> कोड कहा मिलेगा दोस्तों आपको सबसे पहले ब्लॉगर के डेशबॉर्ड में जाना होगा उसके बाद आपको Theme का ऑप्शन मिलेगा आपको उसपे क्लिक करना है जैसे आप उसपर क्लिक करोगे तो आपको edit HTML का ऑप्शन मिलेगा दोस्तों आपको उसपर क्लिक करना है। दोस्तों जब वो खुल जाये तो आपको उसमे कही भी क्लिक करना है फिर अआप्को ctrl+f  प्रेस करना है आपको एक सर्च बार दिखाई देगा उसमे आपको <head> सर्च करना आप <head> सर्च करोगे तो वो हाईलाइट हो जायेगा आपको दिया गया कोड <head> टैग के निचे पेस्ट करना है। उसके बाद आपको save theme पर क्लिक करना है। 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

3. दोस्तों आपको अपनी वेबसाइट को खोलना है जैसे आप अपनी वेबसाइट को ओपन करोगे तो आपको अपनी  वेबसाइट पर पॉपअप आएगा आप निचे इमेज में देख सकते है। लेकिन दोस्तों आप इमेज में देख पा रहे होंगे की पॉपअप दिख तो रहा है लेकिन ये काफी अजीब  भी लग रहा है क्युकी दोस्तों ये अजीब इसलिए लग रहा है क्युकी हमने इसको कस्टमाइज नहीं किया है जैसे लोगो चेंज नहीं हुआ है और dont Allow भी शो हो  शायद ये इसलिए अजीब लग रहा है। दोस्तों इसे कैसे कस्टमाइज करना है तो बढ़ते है एक और स्टेप की तरफ। 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020


4. दोस्तों आपने अगर कोड को इंस्टाल कर कर लिया हो तो आपको निचे स्क्रॉल करना है और  I am done adding the code on my website & am ready to go ahead configuring the opt-ins. पर टिक कर configur optin पर क्लिक करना है 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

5. दोस्तों जैसे ही आप configur optin पर क्लिक करोगे तो आपके सामने एक नयी विंडो ओपन होगी वहां पर आपको बहुत सारे अलग अलग तरीके की डिज़ाइन मिलेगी लेकिन आपको वही रहने देनी है और Enabled पर क्लिक करना है। 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020


वहां से आपको कुछ भी चेंज करना है तो आप कर सकते है अगर दोस्तों dont allow आपको अजीब लग रहा है तो आप may be later कर सकते है। 

How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

6.   अगर आपको लोगो चेंज करना है तो आपको साइड में सेटिंग पर क्लिक करना है आपको निचे लोगो चेंज करने का ऑप्शन मिलेगा दोस्तों ध्यान रहे आप 2mb से ज्यादा का इमेज नहीं लगा सकते हो। 
How to enable web Push Notifications bell in Blogger Website In Hindi? 2020

तो दोस्तों आज हमने जाना की ब्लॉगर में वेब पुश नोटिफिकेशन कैसे लगते है अगर आपका कोई सुझाव या सवाल हो तो हमे कमेंट करके जरूर बताइयेगा क्युकी हमे आपको मदद करने से ख़ुशी मिलती है। 

जय हिन्द वन्दे मातरम 

How to Add Facebook Comment in Blogger? ब्लॉगर वेबसाइट में फेसबुक कमेंट बॉक्स कैसे लगाते है ? [2020]

 

ब्लॉगर वेबसाइट में फेसबुक कमेंट बॉक्स कैसे लगाते है ? [2020]

How to Add Facebook Comment in Blogger?

हेलो फ्रेंड्स आज की इस पोस्ट में आपको बताऊंगा की आप अपने ब्लॉग में फेसबुक कमेंट सिस्टम कैसे लगा सकते है आपको बता दू की ब्लॉगर में फेसबुक कमैंट्स लगाना बहुत आसान है  आपको बस आने html में 2 कोड इनस्टॉल करने होंगे उसके बाद आपका फेसबुक कमेंट सिस्टम लग जायेगा चले में आपको बताता हूँ की आपको कौनसे दो कोड कैसे इनस्टॉल करने है और कहां इनस्टॉल करने है मै  आपको एक छोटी सी जानकारी दे दूँ इससे पहले आप कॉड्स इंस्टाल करे आप पहने अपने ब्लॉग का बैकअप जरूर ले लें। मैंने कुछ स्टेप्स निचे दी है आप उन्हें फॉलो करें तब  ही आप फेसबुक कमेंट अपनी वेबसाइट में जोड़ पाएंगे।

How to Add Facebook Comment in Blogger?

Step 1- सबसे पहले आपको अपने ब्लॉगर के dashboard पर जाना है और थीम्स पर क्लिक करना है आपको  उसमे edit HTML का ऑप्शन मिलेगा आपको बस उसपे क्लिक करना है। 

How to Add Facebook Comment in Blogger?


Step 2- आपको उसके बाद HTML एरिया दिखेगा आपको उसमे कही भी क्लिक कर देना है उसके बाद आपको ctrl+f  प्रेस करना है उसमे बाद स्क्रीन पर एक सर्च बार खुलेगा उसमे आपको </body> सर्च करना है। उसके ऊपर आपको निचे दिया गया कोड पेस्ट करना है और सेव थीम पर क्लिक करना है। 

How to Add Facebook Comment in Blogger?

<div id="fb-root"></div>
<script>(function(d, s, id) {
var js, fjs = d.getElementsByTagName(s)[0];
if (d.getElementById(id)) return;
js = d.createElement(s); js.id = id;
js.src = "//connect.facebook.net/en_US/sdk.js#xfbml=1&amp;version=v2.3";
fjs.parentNode.insertBefore(js, fjs);
}(document, 'script', 'facebook-jssdk'));</script>
दोस्तों हमे आपने पहला कोड थीम में पेस्ट कर दिया है अब बारी है दूसरे कोड की -

Step 3-  <b:include data='post' name='post'/> दिये गया टैग को सर्च करना है जब आप इसे सर्च करोगे तो आपको इस तरह के दो टैग मिलेंगे दोनों बिलकुल एक जैसे होंगे आपको करना ये है आपको पहले टैग को छोड़ना है और दूसरे टैग पर रुक जाना है। दोस्तों ये कुछ थीम्स में दो कोड दीखते है और कुछ थीम में एक। अगर आपके में एक कोड दिखा रहा है तो आपने जो कोड सर्च किया था आपको निचे दिए हुआ कोड को सर्च किये गए कोड के निचे पेस्ट करना है अगर आपको दो कोड दिखते है तो आपको पहले कोड को छोड़कर दूसरे कोड के निचे पेस्ट करना है। उसके बाद आपको सेव थीम पर क्लिक करना है

<b:if cond='data:blog.pageType == "item"'>
&lt;div
class=&quot;fb-comments&quot;
data-href=&quot;<data:post.url/>&quot;
data-width=&quot;600&quot;
data-num-posts=&quot;100&quot;&gt;
&lt;/div&gt;
</b:if>
दोस्तों उसके बाद आपको फेसबुक कमेंट बॉक्स दिखाई देगा कुछ इस तरह दिखाई देगा 

How to Add Facebook Comment in Blogger?

लेकिन दोस्तों आपको ब्लॉगर का कमेंट बॉक्स भी दिखाई देगा लेकिन घबराने की बात नहीं ब्लॉगर का कमेंट बॉक्स कैसे रिमूव करना है तो इस नर्तिक्ले को लास्ट तक पढियेगा।

Step 4- आपको ब्लॉगर कमैंट्स हटाने के लिए सबसे पहले सेटिंग पर क्लिक करना है उसके बाद आपको Posts, comments and sharing का ऑप्शन मिलेगा आपको इस्पे क्लिक करना है उसमे आपको comment location में embedded ऑप्शन मिलेगा उसपे क्लिक करना है उसके आपको कुछ ऑप्शन दिखाई देंगे उनमे से hide के ऑप्शन पे क्लिक करके सेव सेटिंग पर क्लिक करना है उसके बाद आपको ब्लॉगर कमेंट बॉक्स दिखाई नहीं देगा।

How to Add Facebook Comment in Blogger?


दोस्तों आपको ये आर्टिकल कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताना अगर आपका कोई सवाल है तो कमेंट करके जरूर पूछियेगा क्युकी हमे आपकी मदत करना अच्छा लगता है। 

जय हिन्द वन्दे मातरम